भारत की जनगणना पर आधारित वन लाइनर| One Liner facts based on Census of India



भारत
की जनगणना पर आधारित वन लाइनर

विश्व जनसँख्या दिवस 11 जुलाई को मनाया जाता है।

भारत की जनगणना का विषय संघ सूची में सम्मलित किया गया है।

जनसँख्या का अध्ययन डेमोग्राफी कहलाती है।

भारतीय संविधान की धारा 246 के अंतर्गत जनगणना का कार्य संघ सरकार को सौंपा गया है।

भारत में पहली बार आंशिक जनगणना तात्कालीन गवर्नर लार्ड मेयो के काल में1972 में हुई थी।



लार्ड रिपिन दॄारा नियमित प्राधिकृत रूप से 1881 में पहली बार जनगणना करवाई गई।

भारत के प्रथम जनगणना आयुक्त हेनरी प्लाउडेन थे।

पहली बार जाति आधारित जनगणना1931 में हुई थी।

भारत में जनगणना का कार्य गृह मंत्रालय के आधीन महापंजीयक या जनगणना आयुक्त के निर्देश अनुसार होता है।

भारत में 1911 - 1921 के दशक में जन्म वृद्धि दर न्यूनतम रही थी, इसीलिये इसे'महविभाजक वर्ष ' कहा जाता है।

वर्ष 1951 में जन्म वृद्धि दर अधिकतम रही थी इसीलिये इसे 'लघु विभाजक वर्ष'कहा जाता है

स्वतंत्र भारत की पहली जनगणना 1951में हुई थी, इसमें 14 सवाल सम्मलित किये गये थे।

भारत की प्रथम पूर्ण कम्प्यूटरीकृत जनगणना वर्ष 2001 की गई थी।

वर्ष 2011की जनगणना भारत की 15 वी जनगणना है

वर्ष 2011की जनगणना भारत की स्वतंत्रता के बाद की 7 वी जनगणना है।

2011 की जनगणना में कुल 29 सवाल सम्मलित किये गये थे।

सी चन्द्रमौली वर्ष 2011 की जनगणना के आयुक्त थे।

भारत में विश्व की 17.5% जनसंख्या निवास करती है।



भारत विश्व के केवल 2.4% भू-भाग पर विस्तृत है।

नागालैंड एकमात्र ऐसा राज्य है जहां जनसंख्या में कमी आई है।

भारत की जनगणना 2011 के अनुसार - भारत की कुल जनसंख्या - 121.5 करोड़

विश्व की कुल जनसंख्या में भारत का प्रतिशत - 17.5 %

दशकीय जन्म वृद्धि दर - 18.14 करोड़ (17.7% )

वार्षिक जन्म वृद्धि दर -1.64%

भारत में पुरुषों की जनसंख्या - 62.31करोड़

महिलाओं की जनसंख्या - 58.47 करोड़

सर्वाधिक जनसंख्या वाले राज्य - उत्तर प्रदेश (16.16%),महाराष्ट्र (9. 42%), बिहार (8. 07%)

न्यूनतम जनसंख्या वाले राज्य - सिक्किम,मिजोरम ,अरुणाचल प्रदेश

सर्वाधिक साक्षारता वाले राज्य-केरल,मिजोरम,त्रिपुरा

न्यूनतम साक्षारता वाला राज्य -बिहार

सर्वाधिक जनसंख्या वाला जिला - थाणे(महाराष्ट्र)

न्यूनतम जनसंख्या वाला जिला - दिवांग घाटी (अरुणाचल प्रदेश

अधिक जिलो वाला राज्य -उत्तरप्रदेश

भारत की साक्षरता दर - 74.0%

पुरुष साक्षरता दर - 82.14%

महिला साक्षरता दर - 65.46%

सर्वाधिक साक्षरता दर वाले राज्य - केरल (93.9%), मिजोरम (91.6%)

सर्वाधिक पुरष साक्षरता दर वाले राज्य - केरल (96.0 %), मिजोरम (93.7 %)

सर्वाधिक महिला साक्षरता दर वाले राज्य - केरल (92.0 %), मिजोरम (89.4 %)



न्यूनतम साक्षरता दर वाले राज्य - बिहार(63.8%), अरुणाचल प्रदेश (67%),राजस्थान ( 67.1%)

न्यूनतम पुरुष साक्षरता दर वाले राज्य - बिहार (73.4%), अरुणाचल प्रदेश (73.7%), आंध्रप्रदेश (75.6%)

न्यूनतम महिला साक्षरता दर वाले राज्य - राजस्थान - (52.7%), बिहार (53.3%),झारखंड (56.2%)

सर्वाधिक साक्षरता दर वाला जिला - सरचिप (मिजोरम)

न्यूनतम साक्षरता दर वाला जिला - अलीराजपुर (.प्र.)

भारत की जनसंख्या घनत्व - 382व्यक्ति वर्ग किमी

सर्वाधिक घनत्व वाले राज्य - बिहार(1106 वर्ग किमी), . बंगाल (1028 वर्ग किमी)

न्यूनतम घनत्व वाले राज्य - अरुणाचल प्रदेश - 17व्यक्ति वर्ग किमी

सर्वाधिक घनत्व वाला जिला - उत्तर पूर्व दिल्ली

न्यूनतम घनत्व वाला जिला - दिवांग घाटी (अरुणाचल प्रदेश)

भारत में लिंगानुपात - 943 महिला /1000 पुरुष

शिशु लिंगानुपात - 919

सर्वाधिक लिंगानुपात वाले राज्य - केरल - 1084, तमिलनाडु - 996, आन्ध्र प्रदेश -993

न्यूनतम लिंगानुपात वाला राज्य - हरियाणा (879)

सर्वाधिक लिंगानुपात वाला जिला - माहे (पुदुचेरी) 1176

न्यूनतम लिंगानुपात वाला जिला - दमन (533)

सर्वाधिक लिंगानुपात वाला केंद्रशासित प्रदेश - पुदुचेरी

सर्वाधिक जनसँख्या वाला केंद्रशासित प्रदेश - दिल्ली

न्यूनतम जनसँख्या वाला केंद्रशासित प्रदेश - लक्षद्वीप

सर्वाधिक जनसँख्या घनत्त्व वाला केंद्रशासित प्रदेश - दिल्ली

न्यूनतम जनसंख्या घनत्त्व वाला केंद्रशासित प्रदेश- अण्डमान - 46 वर्ग किमी

सर्वाधिक साक्षरता वाला केंद शासित प्रदेश - लक्षद्वीप

भारत की जनगणना पर आधारित वन लाइनर| One Liner facts based on Census of India भारत की जनगणना पर आधारित वन लाइनर| One Liner facts based on Census of India Reviewed by Admin on March 16, 2020 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.